Type Here to Get Search Results !

दो बुद्धिमान बकरियां की कहानी - Story of two wise goats in Hindi

दो बुद्धिमान बकरियां की कहानी - Story of two wise goats in Hindi

दो बकरियां थीं , एक काले रंग की और एक लाल रंग की । दोनों प्रतिदिन सुबह एक साथ चरने के लिये जाती थीं और सायंकाल वापस आती थीं । एक दिन दोनों चरने के लिए चारागाह गई । नदी के दोनों ओर हरी - हरी घास थी । काली बकरी नदी के एक किनारे और लाल बकरी नदी के दूसरे किनारे पर घास चर रही थी ।

सायंकाल हो गई । दोनों को घर वापस जाना था । नदी पार करनी थी । नदी पर एक सकरा पुल था । उस पर से एक में एक ही बकरी जा सकती थी । दोनों ओर की बकरियाँ चल कर आईं और पुल के बीच में आकर आमने - सामने खड़ी हो गईं । अब क्या करें एक ही समय में दोनों जा ही नहीं सकती थीं । झगड़ा करतीं तो दोनों नदी में गिर जातीं ।

Story of two wise goats in Hindi

दोनों बकरियों ने विचार किया । काली बकरी पुल पर नीचे बैठ गई और लाल बकरी उसकी पीठ पर से चढ़ कर चली गई । काली बकरी भी उठकर अपने घर चली गई । दोनों ने सोच समझकर काम किया । झगड़ा नहीं किया इसलिये दोनों की जान बच गई ।

सीख :- दोस्तों हमे इस कहानी से यह सीख मिलती है की सोच समझ कर काम करने से कठिनाई को आसान किया जा सकता है जैसे की इस दो बकरी की कहानियों मे दोनों बकरी अपनी सूझ - बुझ और चतुराई से  पुल को पार कर अपनी जान बचा कर अपने घर चली गई ।

सन्देस :- दोस्तों आपके पास कोई कहानी है जिसे आप हमारे वेबसाईट मे पब्लिश करना या शेयर करना चाहते है तो आप हमारे  Contact  पेज पर भेज सकते है ।

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.